Home Samachar Uttar Pradesh मायावती पर भारी पड़ल नोटन के "माला"

मायावती पर भारी पड़ल नोटन के "माला"

E-mail Print PDF
नई दिल्ली। सोमवार के पार्टी के महारैली में पहनावल एक-एक हजार रूपया के नोटन के माला बसपा सुप्रीमो अउर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री मायावती खातिर भारी पड़ गइल बाटे। संसद में एह मामला पर भइल हंगामा के केन्द्र सरकार कहलस कि आयकर विभाग माला के पीछे के धन के जांच करी। रउआ के पता होई कि बीएसपी के सिल्वर जुबली का मौका पर भइल रैली में पार्टी प्रमुख मायावती के नोटन के विशाल माला भेंट कइल गइल रहे।

कहल जा रहल बाटे कि एह माला में 5 करोड़ रूपया से बेसी के नोट रहे। एह मुद्दा पर मंगलवार के लोकसभा में सपा, कांग्रेस, भाजपा आ जदयू के सदस्य मिल के भारी हंगामा कइले सन। विपक्षी दल मायावती के गला में नोटन के माला डाले जाये के मामला में मनी लॉन्ड्रिंग कानून के तहत कारवाई करे के मांग उठावत रहले सन। भारी शोरगुल के कारण सदन के दू बेर स्थगित कइल गइल आ बाद में बैठक 12 अप्रैल तक खातिर कइ दिहल गइल।

लोकसभा के बजट सत्र के पहिला दौर के मंगलवार के अंतिम दिन रहे। दोसरा दौर 12 अप्रैल से शुरू होई, जवन कि 7 मई ले चली। सदन में शून्यकाल के दौरान सपा आ कांग्रेस के सदस्य लोग भी माया के माला के मुद्दा पर जम के हंगामा कइल। सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव आ उनुकरा पार्टी के सांसदन के आ कांग्रेस के जगदम्बिका पाल के ई कहत सुनल गइल कि मायावती के कथित तौर पर नोटन के ई जवन हार पहिरावल गइल बा, ओकर कीमत 10 से 15 करोड़ रूपया के बीच बाटे। भारी शोरगुल के बीच ई लोग माँग कइल कि सरकार एह धन के स्त्रोत के पता लगावे। कांग्रेस एह माला के कीमत 22 करोड बता रहल बिया, ओहिजे कुछ अन्य पार्टी एकर कीमत 60 करोड तक आँक रहल बाटे।

माया बोलवली बैठक
लखनऊ। एही बीचे, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री मायावती एहिजा नोट के माला को लेके हो रहल विवाद के बाद राज्य के मंत्रियन अउर बसपा सांसदन के बैठक बुधवार 12 बजे अपना आवास पर बोलवले बाडी। मानल  जा रहल बाटे कि मायावती के सोमवार के पार्टी के रैली में पहिरावल नोटन के माला के मामला में बसपा के कई नेता लोग पर कारवाई हो सकेला।

Related news items:

 
Comments (1)
Jimebari
1 Sunday, 04 April 2010 08:40
M Singh
Ka kebal Janta or Sarkari Karmchari ke khatir niyam kanun ba ! Neta or Mantri ke lel na !